कम्युनिटी जर्नलिज्म क्या है?

कम्युनिटी जर्नलिज्म(Community Journalism) का आशय सामुदायिक पत्रकारिता से है। सामुदायिक पत्रकारिता स्थानीय रूप से मुखर होकर, पेशेवर समाचार कवरेज करना है जो आमतौर पर महानगरीय, राज्य, राष्ट्रीय या वैश्विक समाचारों के बजाय शहर के आस पास, नगरों या छोटे शहरों पर केंद्रित होती है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म
कम्युनिटी जर्नलिज्म

यदि यह व्यापक विषयों की बात करे हम तो सामुदायिक पत्रकारिता स्थानीय पाठकों पर पड़ने वाले प्रभाव पर ध्यान केंद्रित करती है। कम्युनिटी जर्नलिज्म में पत्रकार हमेसा उन विषयों को भी कवर करते हैं जो बड़े समाचार मीडिया नहीं करते हैं।

इन विषयों के उदाहरण के रूप में स्थानीय हाई स्कूल, स्कूल के खेल, बर्बरता, ज़ोनिंग मुद्दों और सामुदायिक जीवन के अन्य विवरणों को लेकर हम पत्रकारिता कर सकते है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म में उन खबरों को भी तवज्जो दिया जाता है जिन खबरों को कभी-कभी असंवेदनशील खबरों के रूप में खारिज कर दिया जाता है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म करने वाले पत्रकार कौन है?

अधिकांश कम्युनिटी जर्नलिस्ट पेशेवर रूप से प्रशिक्षित रिपोर्टर और संपादक हैं। कम्युनिटी जर्नलिज्म में कुछ विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम, हाल ही में स्थापित स्नातक पत्रकारिता कार्यक्रमों में सामने आए हैं। सामुदायिक पत्रकारिता को नागरिक पत्रकारों के काम के साथ भ्रमित नहीं होना चाहिए, जो अक्सर बिना वेतन के शौकिया या नागरिक के रुप में पत्रकारिता के साथ होते हैं , हालांकि कई कम्युनिटी पत्रकार(Community Journalist) भी नागरिक पत्रकारो की तरह ही अपनी पत्रकारिता का अभ्यास करते हैं।

कम्युनिटी जर्नलिज्म का इतिहास

  • अगर हम कम्युनिटी जर्नलिज्म से सम्बंधित इतिहास को खंगाले तो हमे यह मिलेगा की सन 1957 से 1971 के बीच में कम्युनिटी जर्नलिज्म की शुरुआत हुई।
  • यूएनसी-चैपल हिल में पत्रकारिता के प्रोफेसर के रूप में एक मोंटाना के संपादक, केन बायरली से सामुदायिक पत्रकारिता का अपना नाम मिला।
  • यद्यपि यह शब्द अपेक्षाकृत नया नाम था पर सामुदायिक पत्रकारिता के संस्थापक बाप दादाओं के समय से ही है।
  • पहले कम्युनिटी जर्नलिज्म शब्द का उपयोग संपादको ने ऐसे पाठ्यक्रम के रूप में किया जिसका शीर्षक “एडिटिंग द कंट्री वीकली” था पर यह कारगर साबित नहीं हुआ क्योंकि यह उपनगरीय समाचार पत्रों के लिए उपयुक्त नहीं था जो 1950 के दशक में विकसित हुए थे।
  • फिर उन संपादको ने सामुदायिक पत्रकारिता को चुना क्योंकि यह दिन के साप्ताहिक और छोटे दैनिकों दोनों में फिट बैठती रह थी। इस तरह से फिर धीरे धीरे कम्युनिटी जर्नलिज्म अपने अस्तित्व में आता गया।

कम्युनिटी जर्नलिज्म के अनुप्रयोग

हम बता दे कि कोई कम्युनिटी जर्नलिज्म के सिद्धांतों या व्यवहारों से सहमत नहीं होता है।

परंपरागत रूप से, पत्रकार किसी भी वास्तविक या कथित हितों के टकराव से बचने की वकालत करते हैं जो; सामुदायिक समूहों में शामिल होने से परहेज करने या उन समूहों द्वारा समर्थित उम्मीदवार से लेन देन न रखने से लेकर कुछ भी हो सकता है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म, घर के नजदीक सेंसेनल बनने वाली खबरों के कवरेज को बढ़ावा देती है। यहां तक कि उस कहानी को कवर करने वाले पत्रकार को भी कम्युनिटी जर्नलिज्म बढ़ावा देती है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म में स्वतंत्रता

हम बता दे कि कुछ जानकर पेशेवर पत्रकारों को स्वतंत्र रहने के लिए बढ़ावा देते हैं, जबकि अन्य स्थानीय और सामान्य समुदायों में कम्युनिटी पत्रकारों को लोकल की आवाज बुलंद करने के लिए जोर देते है। कुछ जानकारों का कहना है कि संपादकों और प्रकाशकों के लिए समुदाय की भागीदारी ठीक है, लेकिन उन पत्रकारों के लिए नहीं जो खबरों को “आकार” देने की क्षमता रखते हैं क्योंकि ऐसे आलोचकों का कहना है कि यह भागीदारी खबर बनाने में शामिल किसी भी व्यक्ति के लिए एक जोखिम भरा है।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कम्युनिटी जर्नलिज्म को बढ़ावा

अपने पाठको को हम यह बता दे कि इंटरनेशनल सोसाइटी ऑफ वीकली न्यूजपेपर एडिटर्स(ISWNE), जिसके सात देशों (यूएस, कनाडा, यूके, आयरलैंड, जापान, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड) में 260 सदस्य हैं, दुनिया भर में सामुदायिक समाचार पत्रों में स्वतंत्र संपादकीय टिप्पणी, समाचार सामग्री और नेतृत्व को प्रोत्साहित और बढ़ावा देता है।

इस कम्युनिटी का उद्देश्य कम्युनिटी जर्नलिज्म में शामिल लोगों को संपादकीय लेखन और समाचार रिपोर्टिंग के मानकों में सुधार करने और मजबूत, स्वतंत्र संपादकीय आवाजों को प्रोत्साहित करने में मदद करना है तथा पत्रकारिता की बाधाओं में डटकर कम्युनिटी के साथ खड़े रहना है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म और डिजिटल मीडिया

यह भी एक सच है कि मोबाइल जर्नलिज्म(Mobile Journalism) महत्वपूर्ण है, मोबाइल से विभिन्न प्रकार के मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करने की अधिक संभावना है, जो कि कुछ साल पहले की तुलना में मीडिया के माहौल में अधिक जुड़ाव महसूस करते हैं और मोबाइल से तो न्यूज़ पोर्टल के लिए सोशल मीडिया वाली खबरों(Social Media For News Portals) का उपयोग करने की अधिक संभावना है।

टैबलेट और स्मार्ट फोन के साथ नागरिक न केवल अपने स्थानीय समुदाय से समाचार पढ़ सकते हैं, बल्कि वे कहानियों के लिंक साझा और पोस्ट भी कर सकते हैं, टिप्पणी कर सकते हैं या स्वयं योगदान कर सकते हैं।

कम्युनिटी जर्नलिज्म का उद्देश्य

  • कम्युनिटी समाचार अपना अधिकांश वजनदारी स्थानीय कवरेज को पूरा करने और राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय समाचारों में एक महत्वपूर्ण स्थानीय एंगल खोजकर आपस मे संबन्ध रिलेट करने का काम करते है।
  • वे समुदाय के हितों को बढ़ावा देकर अपनी नागरिक भूमिका निभाते हैं।
  • कम्युनिटी पत्रकारिता सदैव अपने समुदाय के हितों की रक्षा के लिए की जाती है।
  • कम्युनिटी जर्नलिज्म, एक प्रतिष्ठा वाली पत्रकारिता की ओर लौटने का एक गंभीर प्रयास है साथ ही प्रेस की भूमिका व उसके मूल के रूप में सेवा करने के लिए बहाल करना है।

कम्युनिटी जर्नलिज्म के लाभ

  • कम्युनिटी जर्नलिज्म आदर्श रूप से साझा किए जा सकने वाले स्थानों, संस्थानों, संसाधनों, घटनाओं और विचारों को प्रकट करेगी।
  • यह लोगों को जागरूक करेगी, और जागरूकता के शेयरिंग को प्रोत्साहित करेगी।
  • कम्युनिटी जर्नलिज्म का अभ्यास, एक समुदाय के बारे में बातचीत करने और अर्थ बनाने की प्रक्रिया को भी सुविधाजनक बनाएगी।

कम्युनिटी मीडिया आउटलेट का प्रदर्शन

समाचार आउटलेट सामुदायिक संरचना को किस हद तक प्रकट करते हैं, इसे मापने का एक तरीका नीचे लिखी हुई सूची है जो कम्युनिटी मीडिया आउटलेट की सामग्री प्रदान करती है;

  • सामुदायिक नेताओं, अधिकारियों, विशेषज्ञों और सामुदायिक संगठनों की संपर्क जानकारी वाले समुदाय।
  • समुदाय के नेताओं, अधिकारियों, विशेषज्ञों और सामुदायिक संगठनों से जानकारी जो समुदाय के सदस्यों के लिए उपयोगी और प्रासंगिक हो।
  • सामुदायिक सेवाओं और संस्थानों के बारे में जानकारी।
  • जानकारी ताकि समुदाय यह समझ सकें कि सेवाओं और संस्थानों का उपयोग कैसे किया जाए।
  • क्लबों और संगठनों के बारे में जानकारी।
  • जानकारी जो समुदायों को यह समझने में मदद करती है कि स्थानीय या प्रासंगिक क्लबों और संगठनों के साथ कैसे जुड़ना है।
  • जानकारी जो समुदायों को स्थानीय या प्रासंगिक घटनाओं और उत्सवों का लाभ उठाने में मदद करती है

निष्कर्ष

आज हमने कम्युनिटी जर्नलिज्म के बारे में जानकारी हासिल को और यह समझा कि कम्युनिटी जर्नलिज्म के माध्यम से असल मे लोकल के ऐसे पत्रकारिता को बढ़ावा मिलता है जिनको मेन स्ट्रीम मीडिया दिखाने में हमेशा बचती है। और आप अपने करियर की शुरुआत डिजिटल पत्रकारिता के प्रभावी दौर में न्यूज़ पोर्टल से शुरू करना चाहते हैं तो 7k Network से न्यूज़ पोर्टल डेवलपमेंट(News Portal Website Development) की सर्विस ले सकते हैं।

Get Free Consultation Now!

Take a chance on us, don’t wait and book a free consultation call. There is nothing to lose, only a chance of getting closure to make your news industry a big hit.