पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

Table of Contents

पत्रकारिता(Journalism) एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। पत्रकारिता में नाम भी है और शोहरत भी है परन्तु इस नाम और शोहरत तक पहुचने के लिए बेहद ज्यादा मेहनत भी है। बेशक पत्रकार अपनी जान को जोखिम में डालकर खबरों को उजागर करता है पर सभी के मन मे एक सवाल जरूर आता है कि आखिर ऐसी कौन सी कीमत है कि एक पत्रकार को अपनी जान जोखिम में डालने के लिए मजबूर करती है।

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

जब पत्रकारों को उनकी पत्रकारिता के लिए कोई तनख्वाह(Earning from journalism) भी नहीं दी जाती फिर ऐसी कौन सी वजह है जिनसे उन पत्रकारों का घर चल सकता है और उनकी कमाई हो सकती है।

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

आगे हम बताने वाले है कि यदि आप एक पत्रकार(Journalists) है और आपको इसके लिए तनख्वाह नहीं मिलती है तो आप कैसे अपनी कमाई कर सकते हैं। बेसिकली पत्रकारों के सोर्स ऑफ इनकम क्या है इस बात की हम आगे बात करने वाले हैं।

पेड न्यूज (Paid News)

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

कई बार प्रतिस्ठानो और संस्थानों के उद्घाटन और किसी निजी लाभ के लिए प्रकाशन, पत्रकारों के लिए एक बेहतर सोर्स ऑफ इनकम बन कर उभरते है। चुनावी माहौल में प्रत्याशियों और दावेदारों के पक्ष में माहौल बनाना और उनके नाम को प्रकाशित कर जन जन तक पहुँचाना एक पत्रकार बखूबी जानता है।

अगर आपका बच्चा क्लास में फर्स्ट आता है या आपका कोई दोस्त परीक्षा में चुना जाता है। आप किसी मोर्चे के अध्यक्ष निर्वाचित होते है जिसके लिए लोग आपको बधाइयां दे रहे होते हैं।

इन सभी पेड न्यूज के लिए पत्रकार को चार्ज करना पड़ता है और ऐसे ही पेड न्यूज के सहारे पत्रकारों की कमाई चलती रहती है।

अखबार की प्रतियों से (Newspaper Copies)

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

अगर आप एक अखबार में प्रकाशक है(Newspaper Publishers) तो अपने अखबार की प्रतियों को बेचकर आप अपनी अच्छी खासी कमाई करते है। अखबार की प्रतियां आपके पत्रकारिता का स्तर तय करती है और यह बतलाती है की आपकी खबरों को आपके क्षेत्र में कितना पढ़ा जाता है। कई मर्तबा तो आपके अखबार में छपी खबरें इतना ज्यादा वायरल होने लगती है कि लोग डिमांड के बेस पर आपके अखबारों की प्रतियां ऊंचे दामों में रेलवे स्टेशन, वेटिंग हॉल या ट्रेनों में कीमत चुका कर पढ़ने लगते हैं।

अखबार की प्रतियां पत्रकारों के लिए बेहतरीन कमाई का सोर्स है जिसमें यदि आपके पास पाठक है तो ज्यादा से ज्यादा प्रतियों का प्रकाशन कर के एक हॉकर के रूप में रोजगार उत्पन्न कर सकते हैं।

पत्रकार वार्ताओं से(Press Conferences)

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

किसी भी पत्रकार वार्ता(Press Conference) को आयोजित करते वक्त पत्रकारों को भुगतान करना पड़ता है क्योंकि वह आपके मुताबिक खबरों को प्रकाशित करेंगे। अगर आपके ऊपर कोई लांछन लगाता है या आपको कोई सेंसेनल आरोप(Sensational Allegation) किसी पर लगाना है या कोई भी महत्वपूर्ण जानकारी को त्वरित रूप से जनता तक पहुँचाने के लिए पत्रकार वार्ता बुलानी पड़ती है।

एक पत्रकार हर उस खबर के लिए भुगतान प्राप्त करता है जिन खबरों को वो किसी दूसरे के कहने पर प्रकाशित कर रहा बशर्ते वह अनिवार्य खबर न रहे।

शासकीय कार्यालयों से (Government Offices)

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

पुलिस थाना से लेकर नगर पालिका, एसपी ऑफिस से लेकर कलेक्ट्रेट। हर स्थान से अधिमान्य पत्रकारों के लिए सोर्स ऑफ इनकम का(Source of income for journalists) प्रबंध किया जाता है।

पुलिसिया कार्यवाहियों के प्रकाशन से लेकर हर शासकीय कार्यक्रमो के प्रकाशन को जन जन तक पहुँचाने के लिए पत्रकारो को भुगतान मिलता है। ये सभी भुगतान तरह तरह के माध्यमो से सुविधानुसार पत्रकारों को प्राप्त होते रहते हैं।

विज्ञापन से (Banner Ads)

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

पत्रकारिता की पढ़ाई में यह बतलाया गया है कि असल मे पत्रकारों के सोर्स ऑफ इनकम का एक मात्र माध्यम आधिकारिक तौर पर विज्ञापन प्राप्त करना होता है। ग्राहक पत्रकारों को अवसरों के दौरान विज्ञापन(Banner Advertisments) प्रदान करते है जिसके प्रकाशन के लिए उन्हें भुगतान प्राप्त होता है। यह विज्ञापन 1 हजार से लेकर लाखों रुपयों तक जा सकते है बशर्ते पत्रकारिता में आपका उतना ऊंचा कद भी होना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए देखें हमारी यूट्यूब वीडियो:

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

न्यूज पोर्टल मोनेटाइजेशन

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
  • अगर आप पत्रकार के रूप में अखबार के साथ न्यूज पोर्टल भी चला रहे है तो आपके कमाई का स्त्रोत दोगुना बढ़ सकता है।
  • बहुत सी ऐसी खबरें है जिन्हें प्रकाशित करने के लिए अखबारों में स्थान नहीं मिल पाता उनका प्रकाशन आप अपने न्यूज पोर्टल में करते है अथवा खबरों को अखबार के साथ न्यूज पोर्टल में भी प्रकाशित करते है।
  • ऐसी स्थिति में आपके खबरों को पढ़ने वालों की तादाद के साथ आपके न्यूज पोर्टल के विजिटर्स और ट्रैफिक भी बढ़ती है जिससे मोनेटाइजेशन(News Portal Monetization) की प्रक्रिया जल्दी पूरी हो जाती है।
  • न्यूज पोर्टल एक बार मोनेटाइज हो जाने के बाद आप एक सैलिरि कि तरह अपने न्यूज पोर्टल से कमाई (Earning from a News Portal) कर सकते है क्योंकि एडसेंस आपको आपके न्यूज पोर्टल में लगे विज्ञापनों का भुगतान करता है।

निष्कर्ष

पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?
पत्रकारों के लिए इनकम के क्या सोर्स हैं?

पत्रकारिता के पेशे में बेशक तनख्वाह मिलने की संभावना कम है परन्तु पत्रकारिता में कमाई करने वाले अवसरों की कोई कमी नही है। अगर आप पूरी निष्ठा और ईमानदारों से अपनी पत्रकारिता को अंजाम दे रहे है तो यह अवसर आपको भी जरूर मिलेगा जब लोगों को यह मालूम चल जाएगा कि आप एक पत्रकार बन चुके हैं।

जब लोग आपको पत्रकार कहकर संबोधित करना प्रारंभ कर देंगे तब समझ जाइएगा की वह अवसर आ गया जब पत्रकारिता में आपकी कमाई होना प्रारम्भ होगी। अपने लगन से हार मत माने, पत्रकारिता में बहुत ही ज्यादा बेहतर अवसर आपको मिलने वाले है।

Get Free Consultation Now!

Take a chance on us, don’t wait and book a free consultation call. There is nothing to lose, only a chance of getting closure to make your news industry a big hit.