डिजिटल पत्रकारिता से जुड़े 8 महत्वपूर्ण प्रश्न

अगर आप पत्रकार हैं तो डिजिटल पत्रकारिता(Digital Journalism) के लेख पढ़ते हुए आपके मन मेंकुछ प्रश्न जरूर आते होंगे। इस आर्टिकल में हम ऐसे ही कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों का उत्तर ढूंढेंगे।

डिजिटल पत्रकारिता
डिजिटल पत्रकारिता

प्रश्न: 1 डिजिटल पत्रकारिता का क्षेत्र कैसे बदल रहा है?

हमारे यूजर्स को हमारे एक्सपर्ट की यही राय है कि डिजिटल तकनीक लगभग 2 दशकों से पत्रकारिता को बदल रही हैं। सीडी और डीवीडी के दौर के बाद से सैटेलाइट, केबल और आज के डिजिटल दौर की यदि हम गिनती करते है तो नीचे ऐसे क्षेत्र हैं जिनमें काफी परिवर्तन आया है;

  • खबरों का उपभोग: दर्शक उनकी खबरों का उपभोग कैसे करते हैं
  • देखने/पढ़ने की आदतें
  • खबरों के प्लेटफॉर्म

उक्त सभी के डिजिटल माध्यम में परिवर्तन होने के बाद यदि हम देखे तो;

  • डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म में टूल पत्रकारों के पास समाचार तैयार करने और वितरित करने के लिए पर्याप्त कंटेंट उपलब्ध हैं।
  • कहानियों को इकट्ठा करने और तैयार करने के लिए तकनीकी संसाधन उपलब्ध है।
  • गैर-पेशेवर पत्रकार के लिए भी “ऊपर लिखे सभी संसाधन” उपलब्ध होने लग गया है।
  • डिजिटल तकनीक के आगमन ने खबरों की तैयारी और वितरण को सस्ता और सभी के लिए उपलब्ध कर दिया है।
  • ये पत्रकारिता के सभी पहलुओं के लिए अत्यधिक विघटनकारी हैं।
  • हालांकि कुछ डिजिटल प्लेटफार्म एक नियमित संचालन न होने की वजह से नाटकीय परिवर्तन और व्यवधान से गुजरे हैं।

प्रश्न: 2 डिजिटल पत्रकारिता में उभरती हुई प्रथाएं क्या हैं और क्या यह संबंधित तकनीक में क्रांतिकारी परिवर्तन का संकेत देती हैं?

उभरती प्रथाएं के बारे में हमारे एक्सपर्ट के अनुसार दिए गए राय को यदि माने तो हमे लगता है कि यह अभी भी अपनी प्रारंभिक अवस्था में है लेकिन;

  • डिजिटल पत्रकारिता; जो बहुत व्यापक शब्द बन चुका है, क्योंकि विश्वविद्यालय तक इसका उपयोग करने लग गए हैं। कहानियों को तैयार करने और प्रकाशन करने के लिए डिजिटल (वेब, सोशल मीडिया, डिजिटल वीडियो आदि) का उपयोग क्रांतिकारी स्तर पर बढ़ने लगा है।
  • डिजिटल पत्रकारिता के अंतर्गत ही आने वाले मल्टीमीडिया पत्रकारिता के माध्यम से न्यूज कंटेंट अथवा कहानियों को बढ़ाने और एडिशनल कंटेंट जोड़ने के लिए कई सारे विधियों का उपयोग करना आसान हो गया है।
  • डिजिटल पत्रकारिता में अगली कड़ी सोशल मीडिया “पत्रकारिता” भी अब उभरती हुई डिजिटल संस्था हो चुकी है। अब न केवल समाचार एकत्र करने और कहानी कहने में सोशल मीडिया को समझना पड़ेगा, बल्कि जनता के साथ बातचीत करने के लिए भी सोशल मीडिया का उपयोग करना और यहां तक कि समाचार देने के लिए, ब्रेकिंग न्यूज देने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग किया जाने लग गया है।
  • डिजिटल माध्यम में रीयल-टाइम पत्रकारिता के अनुसार कहानियां जो कहानी के विकसित होने के साथ-साथ ऑटोमैटिक रूप से बदलती रहती है अथवा बदलने के लिए डिज़ाइन की गई हैं, आज विशेष हो चुका है।
  • डिजिटल उद्यमशील पत्रकारिता में नए और वैकल्पिक व्यवसाय मॉडल और राजस्व धाराएँ बनाने के लिए उपरोक्त सभी का उपयोग करना शुरू हो चुका है क्यों ये सभी बहुत निकट से जुड़े हुए हैं और आपस में संबन्धित है।

प्रश्न: 3 आप कंटेंट पर कैसे रिसर्च करते हैं ?

हमारे एक्सपर्ट के अनुसार रिसर्च ही कंटेंट के लिए जरूरी है और रिसर्च ही किसी भी कंटेंट(News Portal Content) क्रिएशन का एक बड़ा हिस्सा है।

कैसा भी कंटेंट हो वह रिसर्च के बाद ही हमे प्राप्त होता है फिर भी हम बता दे की हम खुद कंटेंट पर रिसर्च करने में 75% ऑनलाइन काम करते है और ज्यादातर जानकारी की प्रासंगिकता को सुधारने के लिए सोशल मीडिया प्रकार की तकनीकों का उपयोग करते है। हम बता दे कि 25% रिसर्च तो हमारी इन विषयों के साथ बातचीत के बारे में है जो हमारे कंटेंट की विश्वसनीयता के लिए जरूरी है।

प्रश्न: 4 आप अपने लेखन के प्रभाव को कैसे मापते हैं?

  • डिजिटल पत्रकारिता में लेखन के प्रभाव का मापन की हम यदि बात करे तो यह अभी केवल मानक विश्लेषिकी है लेकिन यह भी पत्रकारिता के लिए एक और प्रमुख सीमा है।
  • लेखन की प्रभावशीलता मापने के लिए आधुनिक रूप से इस मामले में प्रयुक्त उपकरण ऐसे उपकरण है जो डिजिटल प्लेटफॉर्म में लेखन की प्रभावशीलता को मापने के लिए उन उपकरणों के उपयोग को लंबे समय तक आगे बढ़ाएंगे।

दूसरे शब्दों में हम यदि कहे तो डिजिटल पत्रकारिता में प्रभावशीलता, पूर्वाग्रह आदि को मापने के लिए कई ऐसे नए उपकरण होंगे/होंगे जो पत्रकार और उनके संगठन का लंबे समय तक विरोध करेंगे।

पत्रकारिता की यह प्रकृति है कि पेशेवर रूप से प्रशिक्षित पत्रकारों को अभी भी प्रशिक्षित किया जाता है ताकि वे दर्शकों को कहानी तय नहीं करने दें, और अपने स्वयं के पूर्वाग्रहों से आंखें मूंद लें।

प्रश्न: 5 क्या आपने क्राउडसोर्सिंग की कहानियों पर विचार किया है; यदि ऐसा है तो आप प्रामाणिकता के मामलों पर कैसे बातचीत करेंगे?

हमारे एक्सपर्ट के अनुसार अभी क्राउडसोर्सिंग कहानियों के लिए 2 प्रमुख परिभाषाएँ हैं;

  • पहला है सूचना सोर्स के लिए क्राउडसोर्सिंग
  • दूसरा क्राउडसोर्सिंग यह निर्धारित करने के लिए है कि किन विषयों को कवर करना है।

हाँ बेशक हम काफी काम कर रहे है सोर्स और क्राउडसोर्सिंग को लेकर, लेकिन दोनों के साथ विशेष रूप से जानकारी के लिए हम बता दे कि;

क्राउडसोर्सिंग एक ऐसे स्तर पर पहुंचने के करीब हैं जहां क्राउडसोर्सिंग की जानकारी सिर्फ सूचना एकत्र करने के किसी भी अन्य तरीके की तुलना में सटीक और प्रामाणिक हो सकती है। लेकिन अब तक यह देखने को ज्यादा नहीं मिल पा रहा।

प्रश्न: 6 पत्रकारिता के संदर्भ में सहयोग या टीम वर्क का क्या मतलब है?

टीम वर्क से आशय टीम में एक दूसरे की सहायता करने से है। अगर आप टीम में एक राइटर हो इसके बावजूद आपका रिसर्च यदि प्रभावी रूप से काम कर रहा है तो आप अपने रिसर्च के साथ टीम की मदद कीजिए, अथवा विजुअल को बेहतर बनाने के लिए राय सुमारी की जा सकती है।

डिजिटल पत्रकारिता में कोई भी कंटेंट बगैर टीम वर्क के पॉसिबल ही बेहद कम है। एक रिसर्चर कंटेंट रिसर्च करता है तब जाकर राइटर खबर या स्क्रिप्ट को लिखता है। प्रोड्यूसर और कैमरामैन उस कंटेंट को शूट करते है और वीडियो एडिटर उस वीडियो को विजुअल डालजर सुंदर बनाता है एडिट कर के।

इस तरह एक कम्प्लीट टीम वर्क के साथ एक कंटेंट तैयार होता है।

प्रश्न: 7 आपके अनुसार पत्रकारिता के कुछ अच्छे उदाहरण कौन से हैं?

अक्सर, चुनाव के दौरान, जिस तरह से न्यूयॉर्क टाइम्स और सीएनएन जैसे मीडिया संस्थान बेहद ही कठिन जानकारी प्रदान करने के लिए डेटा और इंटरैक्टिव मीडिया का उपयोग करते हैं, यह काफी प्रभावशाली है।

न्यूयॉर्क टाइम्स के डेटा और मल्टीमीडिया कहानियां, राजनीति से लेकर इकोनॉमी या फिर विज्ञान से लेकर टेक्नोलॉजी तक, सारे असाधारण हैं।

CNNs लाइव में भी चुनाव परिणामों पर इंटरैक्टिव समाचार रिपोर्ट समान रूप से प्रभावशाली हैं। यह न केवल डेटा के उपयोग में, और मल्टीमीडिया तकनीक में प्रभावी है बल्कि कई ब्रॉडकास्टर भी इन मीडिया संस्थानों की कुशलता का उदाहरण देते है।

वैश्विक स्तर की पत्रकारिता से हटकर अगर डिजिटल मीडिया की तरफ रुख करते हुए हम बात करें तो द लल्लनटॉप, द क्विंट, द वायर जैसे डिजिटल मीडिया प्लेटफार्म ने भारतीय डिजिटल मीडिया में क्रांतिकारी दौर को लाया है।

प्रश्न: 8 आप अपने डेटा का उपयोग कैसे कर रहे हैं?

  • डिजिटल मीडिया के बढ़ते स्तर और प्रभाव के साथ इंटरनेट डेटा का उपयोग भी समय के साथ बढ़ता चला गया। एक दौर था जब कीपैड फोन में वेब सर्फिंग करते वक्त 2g इंटरनेट को आसानी हम उपयोग किया करते थे पर बदलते दौर के साथ आज 4g इंटरनेट भी हमारी जरूरतों के हिसाब से कम पड़ने लग गया है।
  • अगर आप एक रेगुलर डिजिटल मीडिया संस्थान चलाते है तो बगैर अनलिमिटेड वाईफाई कनेक्शन और हाई स्पीड इंटरनेट डेटा के बगैर आपका काम चल ही नहीं पाएगा।

एक डिजिटल मीडिया संस्थान के लिए डेटा का उपयोग उनकी खबरों के रिसर्च और बनाए गए कंटेंट के अपलोडिंग में खर्च होता है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने डिजिटल पत्रकारिता से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों की चर्चा की है और उन प्रश्नों के जवाब देने का प्रयास किए है जो अक्सर पूछे जाते है।

हालांकि यह प्रश्न काफी नहीं है किसी के मन के व्यवधान को समाप्त करने के लिए इस वजह से अगर आप सभी के मन मे भी अगर कोई प्रश्न हो तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में लिखकर पूछ सकते है, हम उन प्रश्नो का जवाब लेकर एक नए अध्याय में आएंगे।

7k Network भारत की प्रतिष्ठित न्यूज वेबसाइट, न्यूज पोर्टल एवं न्यूज एप डेवलपमेंट(News Portal Development) करने वाली कम्पनी है जो काफी किफायती कीमत में अपने ग्राहकों को शून्य त्रुटि के साथ अपनी सेवाओं को उपलब्ध कराती है। तो अगर आपको भी अपने लिए न्यूज वेबसाइट, न्यूज पोर्टल या एक पत्रकार बनकर न्यूज एप समेत तीनो प्लेटफॉर्म पर खुद को स्थापित करना है तो आप हमसे संपर्क कर सकते है।

Get Free Consultation Now!

Take a chance on us, don’t wait and book a free consultation call. There is nothing to lose, only a chance of getting closure to make your news industry a big hit.