फोटो पत्रकारिता क्या है? फोटो पत्रकारिता के क्या नियम हैं?

Table of Contents

फोटो पत्रकारिता क्या है? फोटो पत्रकारिता के क्या नियम हैं? जानेंगे हम आज के इस ब्लॉग में। जैसा कि आप जानते हैं डिजिटल पत्रकारिता(Digital Journalism) में फोटो के प्रयोग से पत्रकारिता का स्वरूप ही बदल गया है। पत्रकारिता समाज की दर्पण होती हैं।

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?

इस दर्पण को और गंभीर रूप से प्रभावशाली फोटो पत्रकारिता(Photo Journalism) ने बना दिया है। समाज में जो घटित हुआ या जो घटित होगा उन सब का वर्णन-विवरण पत्र-पत्रिकाओ में किसी न किसी रूप में अवश्य होता है। पत्रकार घटनाओं को और भी बेहतर तरीके से समझाने के लिए चित्र (Photo) का प्रयोग करते हैं।

फोटो पत्रकारिता(Photo Journalism) में फोटो चित्रों की भाषा हैं। सबसे प्रभावी चित्र वही मन जाता हैं जो बिना किसी अन्य भाषा के सहारे अपनी पूरी बात स्वंय कह सके। हम इस लेख में फोटो पत्रकारिता के बारे में आगे जानने वाले है कि असल मे यह क्या है और इसका क्या महत्व है।

फोटो पत्रकारिता की शुरुआत और उसका इतिहास

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?

फोटो पत्रकारिता के विषय मे यदि हम बात करे तो फोटो पत्रकारिता के इतिहास मे रेखा चित्रों का प्रचलन 1839 में हुए अविष्कार से पहले 1607 से आरम्भ हो चुका था।

सन 1839 में फोटो पत्रकारिता का अविष्कार हुआ जब यूरोप में लकड़ी के ठप्पों पर नक्काशी करके समाचार पत्रों और पत्रिकाओ में रेखाचित्र छापे जाने लगे।

फोटो पत्रकारिता का महत्व क्या है?

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?
  • फोटो पत्रकारिता अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह एक खबर में भावनात्मक तत्व जोड़ सकता है।
  • फोटो पत्रकारिता में खींची हुई एक तस्वीर दर्शकों के साथ जुड़ सकती है और उनसे भावनात्मक प्रतिक्रिया उत्पन्न कर सकती है, जो उन्हें उस कॉल-टू-एक्शन पर कार्य करने के लिए प्रेरित कर सकती है जो समाचार के साथ हो सकती है।

फोटो पत्रकारिता क्या है? इसको इस बात से समझ सकते हैं कि फोटो पत्रकारिता का उद्देश्य ही पाठको के साथ जुड़ना है।

  • आपकी खींची हुई एक आकर्षक तस्वीर किसी व्यक्ति को खबर पर क्लिक करने या वीडियो देखने के लिए प्रेरित कर सकती है।
  • एक अच्छी तरह से खींची गई तस्वीर से आपके पाठक भी बुद्धिमान हो सकते हैं।
  • फोटो पत्रकारिता के दौरान घटनाओं के बारे में सूचित करने के लिए लिखित समाचार की आवश्यकता नहीं होगी क्योंकि आपका खींचा हुआ फोटो ही उनके लिए शक्तिशाली है।
  • तस्वीरों के बिना भी व्यक्तियों के लिए छवियों को याद रखना बेशक आसान होता है लेकिन फोटो पत्रकारिता भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह पाठक के लिए कहानी को और अधिक मूर्त बनाने में मदद करता है।
  • एक ठोस कहानी पाठकों को कथा से जुड़ने और समझने में मदद करती है और इसे अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों तक पहुंचाती है।

फोटो पत्रकारिता के प्रकार क्या है?

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?

फोटो पत्रकारिता जगत के क्षेत्र व उसके प्रकार कुछ इस प्रकार हैं;

  • खोजी पत्रकारिता (Investigative Journalism)
  • आर्थिक एवं वाणिज्य पत्रकारिता (Economical and Commercial)
  • ग्रामीण एवं कृषि पत्रकारिता (Rural and Agricultural Journalism)
  • व्याख्यातम पत्रकारिता (INterpretative Journalism)
  • विकास पत्रकारिता (Development Journalism)
  • खेल पत्रकारिता (Sports Journalism)
  • सन्दर्भ पत्रकारिता (Reference Journalism)
  • संसदीय पत्रकारिता (Parliamentary Journalism)
  • फिल्म पत्रकारिता (Film Journalism)
  • रेडियो पत्रकारिता (Radio Journalism)
  • दूरदर्शन पत्रकारिता (Television Journalism)
  • विधि पत्रकारिता (Law Journalism)
  • अंतरीक्ष पत्रकारिता (Space Journalism)
  • पित पत्रकारिता (Yellow Journalism)
  • सर्वोदय पत्रकारिता (Sarvodaya Journalism)

एक फोटो पत्रकार के अंदर निम्न गुण होने चाहिए।

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?
  • एक अच्छा फोटो पत्रकार(Photo Journalist) बनने के लिए यह जरुरी हैं की उसमें एक संवाददाता के सभी गुण मौजूद हों और उसे अपने विषय में दक्षता हासिल हो।
  • वह हर दिन नया विषय पर काम करे व हर विषय पर तरह-तरह का काम करे।
  • विचारों की मौलिकता, नवीनता एक प्रभावशाली फोटो पत्रकार के लिए अधिक जरुरी हैं।
  • कैमरों के सभी कल-पुर्जों के ज्ञान के साथ–साथ डार्करूम में भी काम करना जानता हो।
  • किसी भी विचार या घटना को चित्र के रूप में सोचना ही एक अच्छे फोटो पत्रकार की पहचान हैं।
  • फोटो पत्रकारिता का काम अकेलेपन का होता हैं। उसका विश्वाश पात्र सिर्फ उसका कैमरा होता हैं। इसलिए फोटो पत्रकार में दृढ़ निश्चय और आत्मविश्वास होना चाहिए।
  • फोटो पत्रकार निडर, धैर्यशील, जुझारू व संघर्षशील हो तभी वह दंगो, हिंसा-संघर्ष, युद्धों व प्रकृति आपदाओं को अपने कैमरे में कैद कर सकता हैं।
  • फोटो पत्रकार के लिए समय बडा महत्वपूर्ण होता हैं, वह समय के साथ होड़ करता हैं, समय उसकी प्रतिक्षा नहीं करता हैं, फोटो पत्रकार के लिए समय का पाबन्द होना उसका मुख्य गुण हैं।
  • फोटो पत्रकार को सच्चाई और ईमानदारी के सिद्धांतो का पालन करना चाहिए।
  • फोटो पत्रकार को प्रेस सम्बन्धी कानूनों(Press Laws) का ज्ञान होना बहुत जरुरी हैं।

फोटो पत्रकारिता से जुड़े नियम और आचार संहिता

फोटो पत्रकारिता क्या है?
फोटो पत्रकारिता क्या है?

डिजिटल पत्रकार(Digital Journalist) के लिए फोटो पत्रकारिता और भी अधिक महत्वपूर्ण है। और डिजिटल दौर में आम जनता के लिए भी ये खबरों को समझने का जरिया बन चुकी है। दर्शकों के लिए तस्वीरों को कैप्चर या हेरफेर करते समय फोटो पत्रकारों के सम्मान के लिए एक आचार संहिता बनाई गई जिनके नियमो को हम जानेंगे।

  • समाचार को यथावत रिपोर्ट करें, दर्शकों को प्रभावित करने या अपनी राय डालने का प्रयास न करें।
  • फोटो खींचते समय व्यक्तियों के साथ सम्मान, सम्मान और सम्मान के साथ व्यवहार करें।
  • फ़ोटोग्राफ़ संपादित करते समय, संदर्भ और कंटेंट के संदर्भ में फ़ोटो की अखंडता को बनाए रखें।
  • विषयों से उपहार या अन्य पुरस्कार स्वीकार करने से बचें।
  • अपनी तस्वीरों में शामिल होने के लिए व्यक्तियों को रिश्वत देने से बचें यदि उन्होंने पहले ही मना कर दिया है।
  • किसी प्रोजेक्ट पर अन्य फोटो पत्रकार और सहकर्मियों के साथ सहयोग करते समय व्यावसायिकता और विनम्रता प्रदर्शित करें।

तो 7k Network के इस ब्लॉग में हमने जाना कि फोटो पत्रकारिता क्या है? कैसी लगी हमारी यह जानकारी कृपया कमेंट कर के जरूर बताएं।
जुड़े रहिए 7knetwork के साथ।

Get Free Consultation Now!

Take a chance on us, don’t wait and book a free consultation call. There is nothing to lose, only a chance of getting closure to make your news industry a big hit.